ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
आधी आबादी संग , लाडो फिर दंगल मे 
April 23, 2020 • Vijay Shukla • राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी

आधी आबादी संग , लाडो फिर दंगल मे 

लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया

कुरुक्षेत्र। डाउन के दौरान डॉ संतोष दहिया ने महिलाओं को दिया एक नया मंच। अपने घरों में सुरक्षित बैठी महिलाओ को व्हाट्सएप ग्रुप से जोड़कर उनकी प्रतिभा को एक मंच दिया जिसमें महिलाएं अपने मन की बात सांझी कर रही है।  महिला खाप महापंचायत की पहली राष्ट्रिय अध्यक्ष एवं राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित डॉ संतोष दहिया ने  अखिल भारतीय महिला शक्ति मंच, महिला शक्ति मंच नाम से व्हाट्सएप ग्रुप बनाए है जिनमे देश के कोने कोने से केवल महिलाओं को जोड़ा गया है। जिनमें महिलाएं जी भर कर मन की बात कर रही हैं और अपने हुनर को भी सभी महिलाओं के साथ शेयर कर रही हैं। महिला का जीवन की दिनचर्या बहुत ही व्यस्त रहती है उसे खुद की प्रतिभा को निखारने का मौका ही नहीं मिलता वह परिवार में लगी रहती है।

आजकल कोरोना के कहर ने हर किसी को घर की चारदीवारी में कैद कर दिया है जिससे हर व्यक्ति खुद को असहाय सा महसूस कर रहा है और कोरोना का भय उनके अंदर घर कर रहा है जिससे उबारने के लिए डॉ संतोष दहिया ने महिलाओं को अपनी प्रतिभा को निखारने के लिए मंच दिया है जिसमें हर रोज एक टॉपिक दिया जाता है और अगले दिन उसी के अनुसार महिलाएं तैयारी कर के आती है जैस- आपकी कहानी आपकी जुबानी,गाना,नाचना,शेरो शायरी,पेंटिंग,कढ़ाई - बुनाई, आदि।और इस मंच की खास बात है कि महिलाएँ उन समस्याओं पर भी चर्चा करती है जो समस्याएं आज देश के सामने ज्वलंत मुद्दों के रूप में उभर रही है जैसे- बच्चों में संस्कार ,अंधाधुंद आधुनिकीकरण कितना घातक, बच्चो के लिए मोबाइल फायदेमंद या नुकसान दायक, महिलाओं की सुरक्षा और आत्मसम्मान की रक्षा कैसे की जा सकती है और उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलंबी कैसे बनाया जा सकता है, महिलाएँ अपने पद के कार्य खुद करें, नशे की रोकथाम, समाज के लोगो को उनकी जिम्मेदारियो से अवगत कैसे कराएँँ आदि जैसे विषयों पर महिलाएँ खुलकर अपनी बात रख रही है। डॉक्टर संतोष दहिया नेे कहा कि यह संगठन महिलाओं के लिए मील का पत्थर साबित होगा। पूरे देश की महिलाओंं को इस संगठन के साथ जोड़ा जाएगा।