ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
आरोग्य भारती हिमाचल प्रदेश द्वारा धन्वन्तरि जयंती एवं पंचम राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के उपलक्ष्य में मनाया गया धन्वन्तरि जयंती पखवाड़ा 
November 17, 2020 • Vijay Shukla • हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर

आरोग्य भारती हिमाचल प्रदेश द्वारा धन्वन्तरि जयंती एवं पंचम राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के उपलक्ष्य में मनाया गया धन्वन्तरि जयंती पखवाड़ा 

 

गौरव सूद 

लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 

धर्मशाला। आरोग्य भारती हिमाचल प्रदेश द्वारा धन्वन्तरि जयंती एवं पंचम राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के उपलक्ष में धन्वन्तरि जयंती पखवाड़ा मनाया जा रहा है, इसी कड़ी यह दिवस राजीव गांधी राजकीय आयुर्वेद स्नातकोत्तर महाविद्यालय व चिकित्सालय पपरोला जिला कांगड़ा हिमाचल प्रदेश में बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया गया। इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण व आयुर्वेद मंत्री डा0 राजीव सैज़ल मुख्य अतिथि व बैजनाथ क्षेत्र के  विधायक 
मुल्ख राज प्रेमी विशिष्ट अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए।  

आरोग्य भारती हिमाचल प्रदेश द्वारा इस पुनीत अवसर पर आयुर्वेद महाविद्यालय के अध्यापकों को माननीय आयुर्वेद मंत्री डा0 राजीव सैज़ल के माध्यम से उनके आयुर्वेद के प्रति विशेष योगदान के लिए सम्मानित किया गया। प्रोफैसर बी0 एल0 मेहरा सेवानिवृत विभागाध्यक्ष कायचिकित्सा विभाग व प्रोफैसर नरेश शर्मा, प्रधानाचार्य एवं डीन, राजीव गांधी राजकीय आयुर्वेद महाविद्यालय व चिकित्सालय पपरोला  को लाईफटाईम अचीवमैंट पुरस्कार एवं स्वस्थवृत विभाग के  विभागाध्यक्ष, प्रोफैसर टेक चन्द ठाकुर को योग, प्राकृतिक चिकित्सा (मृतिका चिकित्साद्) एवं पथ्य आहार के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने हेतु अवार्ड आफ ऐक्सीलैंस से सम्मानित किया गया।

वैद्य अनिल भारद्वाज, सह सचिव आरोग्य भारती, हिमाचल प्रदेश के माध्यम से डा0 राकेश पंडित, राष्ट्रीय सचिव आरोग्य भारती एवं डा0 हेमराज शर्मा, महासचिव आरोग्य भारती, हि0प्र0 के मार्गदर्शन में इस कार्यक्रम को सम्मपादित किया गया। इसके अलावा आयुर्वेद निदेशालय शिमला से आयुर्वेद विभाग में संयुक्त सचिव के पद पर सुशोभित डा0 राखी सिंह इस कार्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित रहीं। डा0 कुलदीप बरवाल, चिकित्सा अधीक्षक राजकीय आयुर्वेद चिकित्सलय पपरोला भी इस कार्यक्रम में उपस्थित रहे।