ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
बीजपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी,कातिल को पकड़ भेजा जेल
June 7, 2020 • Vijay Shukla • सोनभद्र-मिर्ज़ापुर

बीजपुर पुलिस की बड़ी कामयाबी,कातिल को पकड़ भेजा जेल

 

ईश्वरी प्रसाद

बीजपुर,सोनभद्र।स्थानीय थाना क्षेत्र के महरिकला के टोला कैमहाडाँड़ में बुधवार को धारदार हथियार से गर्दन काटकर हुए गीता प्रसाद विश्वकर्मा पुत्र सुखलाल विश्वकर्मा 30 वर्ष की हत्या का खुलासा रविवार को बीजपुर पुलिस ने कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार गीता बुधवार की शाम अपने घर से आधार कार्ड औऱ पासबुक का फोटो स्टेट कराने गया था। देर रात तक वापस न आने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की लेकिन रात में पता न चलने के कारण लोग गुरुवार की सुबह फिर खोजने निकले थे कि घर से लगभग 800 मीटर दूर गाय बैल बांधने के लिए बने अंजनी सिंह के एक खाली मकान जिसमे अंजनी सिंह की एक बिछिप्त बहन रहती है, वहीं पर जमीन पर गीता प्रसाद की लाश पड़ी थी, जिसे देख लोगों में हड़कम्प मच गया। गीता प्रसाद की गर्दन पर धारदार हथियार से वारकर मौत के घाट उतार दिया गया था। घटना स्थल पर ग्रामीणों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। किसी ने मामले की सूचना पुलिस को दी आनन - फानन में मौके पर पहुँची पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर घटना की जानकारी अपने उच्चा धिकारियों को देकर जाँच पड़ताल में जुट गई। मृतक के भाई नेवल प्रसाद विश्वकर्मा ने गुरुवार को तहरीर देकर बताया कि उसके चाचा हरिप्रसाद पुत्र रामबदन ने 4 – 5 दिन पहले जमीन को लेकर जान से मारने की धमकी दी थी, जिसके आधार पर बीजपुर पुलिस ने आपराधिक मुकदमा दर्जकर तलाश शुरू कर दी। रविवार की सुबह 7:30 बजे पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी हरि प्रसाद संचिराडाँड़ तिराहे पर है और कही भागने की फिराक में हैं। तत्काल प्रभारी निरीक्षक बीजपुर ने अपनी टीम लेकर मौके पर पहुँच कर उसे पकड़ लिया। कड़ाई से पूछताछ में हरिप्रसाद ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया और बताया कि गीता से मेरा जमीन का विवाद चल रहा था और 5 दिन पहले स्थानीय लोगों भूलेचन्द और सलिराम के सामने पंचायत कर हमलोगों के जमीन का बंटवारा हुआ था। 4 लट्ठा गीता की जमीन मेरे तरफ थी और उसे मुझे गीता को देना पड़ा था, जिसको लेकर मुझे नाराजगी थी। बुधवार सायं जब वह घर से निकला तो मै उसे रामधनी बियार के घर साथ में शराब पिया और घर वापसी में अंजनी सिंह के मकान के पास उसी जमीन को लेकर आपस मे झगड़ा हुआ और धक्का मुक्की हुई और वहाँ से हरिप्रसाद घर चला गया फिर कुछ देर बाद वापस कुल्हाड़ी लेकर आया और मकान में गीता शराब के नशे में पड़ा था और उसके गर्दन पर कुल्हाड़ी से वॉर कर मौके से फरार हो गया। हरि प्रसाद के निशानदेही पर घटनास्थल से लगभग 50 मीटर दूर बांस के पेड़ के पास मृतक का आधार कार्ड, बैंक पासबुक,कुल्हाड़ी और 2940 रुपए नगद बरामद किया,कुछ नोटों पर खून के निशान भी लगे थे। आरोपी के कबूलनामा के आधार पर धारा 302,201 के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक श्याम बहादुर यादव,उपनिरीक्षक चंद्रशेखर सिंह,शेषनाथ मिश्रा, आरक्षी समशेर सिंह बहादुर और बिपिन सिंह शामिल रहे।