ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
भारत की मजबूती वैश्य समाज पर निर्भर: वेदप्रकाश वैदिक
October 18, 2020 • Vijay Shukla • हरियाणा- राजस्थान

भारत की मजबूती वैश्य समाज पर निर्भर: वेदप्रकाश वैदिक

  • महाराजा अग्रसेन की 5144वीं जयंती एवं दीपावली मिलन समारोह में कही यह बात
  • वैश्य परिवार वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से हुआ कार्यक्रम 

 

ऋतू सैनी 

लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 

गुरुग्राम। वैश्य परिवार वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से महाराजा अग्रसेन की 5144वीं जयंती एवं दीपावली मिलन समारोह धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम में महाराजा अग्रसेन के जीवन से जुड़े पहलुओं को एक वीडियो के माध्यम से दिखाकर उनके जीवन से रूबरू कराया गया, वहीं लघु नाटिका के जरिये कोरोना से बचने के उपायों के प्रति जागरुक किया। बच्चियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिये मन मोह लिया।  

सेक्टर-10ए स्थित सामुदायिक केंद्र में आयोजित इस कार्यक्रम में कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन से अनलॉक होने के बाद यह कार्यक्रम महामारी से पहले जैसे जीवन का आभास कराया गया। इसे देखकर हर कोई प्रसन्न हुआ। वरिष्ठ पत्रकार एवं राजनीतिक विशेषज्ञ वेदप्रकाश वैदिक ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। मुख्य अतिथि के रूप में हरेरा गुरुग्राम के चेयरमैन केके खंडेलवाल ने शिरकत की। विशिष्ट अतिथि के रूप में नेचर इंटरनेशनल संस्था के अध्यक्ष शरद गोयल, नगर निगम के संयुक्त आयुक्त जितेंद्र गर्ग, प्रसिद्ध समाजसेवी एवं उद्योगपति सचिन जैन, वरिष्ठ शिक्षाविद् एवं राजकीय कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य रमेश गर्ग ने शिरकत की। वैश्य परिवार वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान नवीन गोयल के मुताबिक कार्यक्रम में महाराजा अग्रसेन जी के जीवन की गाथा वीडियो के रूप में दिखाई गई। साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में कोरोना महामारी काल में कार्यरत रहे कोरोना वॉरियर्स को भी यहां सम्मानित किया गया। संस्था के महासचिव टीसी अग्रवाल द्वारा कोरोना काल में किए गए कार्यों का यहां ब्यौरा दिया गया। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राजनीतिक विशेषज्ञ वेदप्रकाश वैदिक ने वैश्य समाज के महत्वपूर्ण ङ्क्षबदूओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि भारत की मजबूती वैश्य समाज पर निर्भर है। इसी से ही विश्व व्यापार में भारत मजबूत होगा। विश्व के व्यापार में भारत तभी मजबूत हो सकता है, जब वैश्य समाज देश में मजबूती से काम करे। उन्होंने इस बात के लिए भी प्रेरित किया कि हमें जनसेवा के लिए सदा आगे रहना है। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज इतिहास में अंकित है। वैश्य समाज के कार्यों, जनसेवा के आगे सरकारें भी फेल हैं। इसलिए समाज के व्यक्ति का अपना महत्व है। एकजुट होकर कार्य करते रहें। महाराजा अग्रसेन जी के आदर्शों को अपनाते हुए कार्य करें।  

अग्रवाल समाज का रक्त दुनिया का सबसे शुद्ध रक्त: डा. खंडेलवाल
अपने संबोधन में हरेरा चेयरमैन डा. केके खंडेलवाल ने कहा कि अग्रवाल समाज का रक्त दुनिया का सबसे शुद्ध रक्त है। समाज ने ना केवल खुद को स्थापित किया, बल्कि दूसरे लोगों को भी स्थापित करके उनके जीवन को खुशहाल बनाया है। उन्होंने समाज में आ रही कुछ नकारात्मक चीजों की तरफ ध्यान दिलाते हुए कहा कि हमें समाज को संगठित करने पर ध्यान देना है। हम शांति के प्रतीक हैं। बुजुर्गों का सम्मान करें। उनसे मार्गदर्शन लें। क्योंकि जिस परिवार, समाज में बुजुर्गों का सम्मान नहीं होता, वह लंबे समय तक नहीं चल सकता। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद वेदप्रकाश वैदिक को राष्ट्र की धरोहर कहते हुए उनकी लंबी उम्र की कामना की। साथ ही उनका आशीर्वाद लिया। उन्होंने वैश्य परिवार और कैनविन फाउंडेशन के सेवा कार्यों की भी सराहना की। 

समाज को हर तरह से देंगे मजबूती: नवीन गोयल
अतिथियों द्वारा समाज सुधार की दिशा में दिए गए वक्तव्यों पर संस्था के प्रधान नवीन गोयल ने इस बात का विश्वास दिलाया कि उनकी ओर से समाज को हर तरह से मजबूत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम सब बिजनेस में मजबूत हैं, दोस्ती में मजबूत हैं। अब राजनीति में भी आगे आकर मजबूत होना होगा। उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि वे समाजसेवा का रास्ता चुनें और जीवन का एक ध्येय बनाकर आगे बढ़ें। उन्होंने यह भी कहा कि महाराजा अग्रसेन जी ने समाजवाद का सबसे बड़ा उदाहरण दिया है। उसे आगे भी कायम रखना है। यहां से ऐसा संकल्प लेकर जाना है। वैश्य समाज के उत्थान के लिए जी-जान से जुटे रहेंगे। महाराजा अग्रसेन की विचाराधारा को सदा आगे बढ़ाया जाएगा, ताकि आने वाली पीढिय़ां भी उनका अनुसरण करके समाज को नई दिशा दे सकें। उन्होंने कहा कि डा. केके खंडेलवाल का गुरुग्राम समेत पूरे हरियाणा के विकास में महत्वपूर्ण योगदान है। कैनविन फाउंडेशन संस्था के संस्थापक डीपी गोयल ने कहा कि कोरोना महामारी ने हमें जीना सिखा दिया है। जो काम हमारे जरूरी थे, हम उन्हें अंत में रखते थे। इसलिए अब जीवन को नए सिरे से जीना शुरू करें। 

इस मौके पर संस्था के महासचिव मनीष सिंघल, कोषाध्यक्ष सुदर्शन अग्रवाल, मानव आवाज संस्था के संयोजक एडवोकेट अभय जैन, वरिष्ठ पत्रकार अनिल आर्य, बीजेपी जिला कोषाध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल, युवा मोर्चा के कोषाध्यक्ष गगन गोयल, सेक्टर-45 से रतनलाल गुप्ता, रामकुमार गर्ग, वैश्य आभा से तुषार, अजय अग्रवाल, शैलेंद्र गोयल समेत काफी संख्या में सामाजिक क्षेत्र में कार्य करने वाले लोग मौजूद रहे। मंच संचालन साक्षी ने किया।