ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
चार घण्टे तक एम्बुलेंस नही मिला घर पर ही हुआ प्रसव फिर अस्पताल जाते वक्त रास्ते में तोड़ा दम 
September 26, 2020 • Vijay Shukla • सोनभद्र-मिर्ज़ापुर

चार घण्टे तक एम्बुलेंस नही मिला घर पर ही हुआ प्रसव फिर अस्पताल जाते वक्त रास्ते में तोड़ा दम 

  • एम्बुलेंस न मिलने से घर पर ही कराया गया था प्रसव 
  • मामला म्योरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत परनी  के हरिजन बस्ती का मामला


सन्तोष दयाल
लोकल न्यूज़ आफ इंडिया 
म्योरपुर ।म्योरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत परनी के हरिजन बस्ती के पास स्वास्थ्य विभाग की उस समय पोल खुल गई जब फोन करने के 4 घंटे बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंच सका । महिला ने बच्चे को घर मे ही जन्म दिया एक ओर सुबे मुखिया योगी आदित्य नाथ जहाँ आम जन मानस को अच्छी स्वास्थ्य सुविधा देने के लिये विभिन्न योजनाएं चला रहे है पर योजनाएं कागजो पर ही लगता है सीमित हो गया है। जमीन पर हकीकत कुछ और ही है जिसका जीता जागता उदाहरण परनी में देखने को मिला।

मृतिका के पति रमाशंकर गोड़ ने बताया कि कल दोपहर मेरे पत्नी को प्रसव पीड़ा बहुत तेज होने लगी।  मैं तुंरन्त 102 एम्बुलेंस पर फोन लगा कर एम्बुलेंस की मांग की फोन रिसीव करने वाले ने कहा कि 20 मिनट में एम्बुलेंस आपको मिल जाएगी पर एक धण्टे बीतने के बाद भी एम्बुलेंस नही आया तो मैं गांव की आशा रीना को बताया आशा द्वारा पुनः 102 एम्बुलेंस को फोन लगाया गया तो फोन रिसीव करने वाले ने बताया कि एम्बुलेंस जिला अस्पताल गयी है चार धण्टे लगेंगे फिर 108 एम्बुलेंस को फोन लगाया तो फोन रिसीव कर कहा गया दो घण्टे के बाद एम्बुलेंस मिलेगी इसी दौरान महिला ने बच्चे को जन्म दिया जन्म के बाद जच्चा बच्चा दोनों स्वस्थ्य थे कुछ देर पर महिला को  रक्तस्राव  ज्यादा होने लगी साधन खोज रहे पति ने ग्राम प्रधान मनोज यादव को मामले की जानकारी दिया ग्राम प्रधान ने तुंरन्त एक गाड़ी रमाशंकर के घर भेजा जहाँ से आनन फानन में महिला को म्योरपुर सीएचसी आया जाने लगा रास्ते मे ही महिला बेहोश हो गयी अस्पताल पहुचते ही चिकित्सको ने महिला को देखते ही मृत धोषित कर दिया सीएचसी अधीक्षक डाक्टर शिशिर ने बताया कि मृतिका का नाम सोनकुवार पत्नी रमाशंकर गोड़ उम्र 32 वर्ष है परिजनों द्वारा महिला को मृत अवस्था मे लाया था ।एम्बुलेंस के समय पर न मिलने मामले में बताया कि एम्बुलेंस की मॉनेटरिंग लखनऊ से होती है मैने लेटर शासन को पत्र लिखा है।