ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
छठ व्रती महिलाओं ने दिल्ली भाजपा महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में मुख्यमंत्री केजरीवाल की सद्बुद्धि के लिए आईटीओ घाट पर की पूजा
November 18, 2020 • Vijay Shukla • दिल्ली

छठ व्रती महिलाओं ने दिल्ली भाजपा महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में मुख्यमंत्री केजरीवाल की सद्बुद्धि के लिए आईटीओ घाट पर की पूजा

सोशल काका 

लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा छठ महापर्व पर प्रतिबंध लगाने के कारण पूर्वांचल वासियों और छठ व्रतियों में रोष है। आज दिल्ली भाजपा महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में छठ व्रती महिलाओं ने आईटीओ पर बने छठ घाट पर एकत्रित होकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सद्बुद्धि के लिए सूर्य देव को जल अर्पित कर अराधना की। इस अवसर पर प्रदेश मीडिया प्रमुख नवीन कुमार ने भी केजरीवाल सरकार को जमकर लताड़ लगाई। 

प्रदेश महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि पूर्वांचलवासियों की आस्था को ठेस पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने महापर्व छठ पर प्रतिबंध लगाकर जो पाप किया है उसकी सजा छठी मैया उन्हें जरूर देंगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल पूर्वांचलवासियों को नीचा दिखाने का कोई भी मौका हाथ से जाने नहीं देते हैं, और छठ महापर्व पर प्रतिबंध लगाकर उन्होंने पूर्वांचलवासियों की धार्मिक भावनाओं को आहत किया है, यह माफी योग्य भी नहीं है। हमारी यही प्रार्थना है कि छठी मैया और भगवान सूर्य मुख्यमंत्री केजरीवाल को सद्बुद्धि दें ताकि वह अपने स्वार्थ हित में हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं पर कुठाराघात न करें। 

प्रदेश मीडिया प्रमुख नवीन कुमार ने कहा कि फेल केजरीवाल अपनी नाकामी छुपाने के लिए कभी पटाखों पर बैन लगाते है तो कभी छठ मैया की पूजा पर, कभी दुकानों पर ताला लगवाने की धमकी देते हैं तो कभी लोगों को हाउस अरेस्ट करने की। अगर सरकार चलानी नहीं आती तो सत्ता में क्यों बैठे हैं केजरीवाल, अगर कोई एक भी मंत्रालय संभालना नहीं आता तो मुख्यमंत्री क्यों बने बैठे हो। उन्होंने कहा कि दिल्ली में यमुना को गंदा नाला बनाने वाले केजरीवाल, हमारे फेफड़ों में बीमारी भरने वाले केजरीवाल क्योंकि इन्होंने ही चुनाव से पहले हमसे स्वच्छ जल, हवा और स्वास्थ्य सुविधाएं देने का वादा किया था और 6 सालो में करीब साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये का बजट कहा पर खर्च किया उसका हिसाब भी आम आदमीं पार्टी के नेताओं को देना होगा।