ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
जलोड़ी दर्रा समेत तीर्थन के ऊंचे पहाड़ों ने ओढ़ी बर्फ की सफेद चादर
November 17, 2020 • Vijay Shukla • हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर

जलोड़ी दर्रा समेत तीर्थन के ऊंचे पहाड़ों ने ओढ़ी बर्फ की सफेद चादर

  • बर्फबारी के बाद खिली धूप में चांदी की तरह चमक उठे पहाड़।
  • बारिश बर्फबारी से किसान बागवान और पर्यटन कारोबारी खुश।
  • ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क पर्यटकों के लिए खुला- भुपेन्द्र शर्मा।

 

परसराम भारती 

लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 

तीर्थन घाटी गुशैनी बंजार। हिमाचल प्रदेश जिला कुल्लु उप मण्डल बंजार की तीर्थन घाटी के ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क और जलोड़ी दर्रा सहित बंजार के ऊँचाई वाले क्षेत्रों में इस मौसम सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। रविवार रात से ही ऊँचे पहाड़ो पर हल्की बर्फवारी के साथ ही घाटी के निचले क्षेत्रों में खूब बारिश की बौछारें बरसी है। पिछले कल शाम से ही घाटी के मौसम ने अचानक करवट ली है और सुबह तक घाटी के ऊँचाई वाले क्षेत्रों जलोड़ी दर्रा, तीर्थ टॉप, बशलेउ दर्रा, लामभरी टॉप, सकीर्ण कंडा, रांगथड आदि में सुबह तक करीब पांच से छह इन्च तक ताजा बर्फवारी दर्ज की गई है। इसके साथ ही निचले इलाकों में बारिश का दौर रुक रुक कर जारी है।

अचानक हुई इस बारिश और बर्फबारी की बजह से यहाँ के तापमान में भारी गिरावट आई है जिस कारण पूरी घाटी शीत लहर की चपेट में आ गई है। इस बर्फवारी के कारण औट लुहरी राष्ट्रीय उच्च मार्ग फिहलाल वाहनों की आवाजाही के लिए बन्द हो गया है जिसके जल्द बहाल होने की सम्भावना है।इस दौरान घाटी में बिजली की आपूर्ति सेवा ठप रही। सूखे की मार झेल रहे किसानों और बागवानों ने इस समय राहत की सांस ली है। जिन्हें इस बार अपनी फसल के बम्पर पैदावार की उम्मीद जगी है। आज मौसम खुलने के बाद दिन के समय धुप खिली रही। शीत लहर के कारण घाटी में घुम रहे आवारा और बेसहारा पशुओं की जान पर आफत आन पड़ी है।

बर्फवारी के बाद जलोड़ी और तीर्थन की वादियाँ मनमोहक दृश्य पेश कर रही है। यहाँ के ऊँचे पहाड़ इस समय चांदी की तरह चमक रहे हैं जो घाटी के छुपे हुए सौन्दर्य से रूबरू करा रहे हैं। यहां पर आगामी दिनों में भी बारिश और बर्फवारी के आसार बने हुए हैं जिस कारण यहाँ के पर्यटन कारोबार में इजाफा होगा। हालांकि आजकल यहाँ पर पर्यटकों की संख्या बहुत कमी देखने को मिल रही है फिर भी पर्यटन कारोबारियों को उम्मीद है कि इस बार नव वर्ष की पुर्व सन्ध्या पर बर्फवारी के कारण पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा।

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क तीर्थन रेंज के वन परिक्षेत्राधिकारी भूपेन्द्र शर्मा ने बताया कि अब पार्क क्षेत्र को पर्यटकों की आवाजाही के लिए खोल दिया गया है। इन्होंने कहा कि पार्क क्षेत्र के अन्दर भर्मण करने वाले पर्यटकों, गाइडों और स्टाफ के सभी सदस्यों को कोविड 19 के नियंत्रण हेतु सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करना होगा।