ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने दोबड़-कुशियाला संपर्क सड़क का किया भूमिपूजन
October 25, 2020 • Vijay Shukla • हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर
मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने दोबड़-कुशियाला संपर्क सड़क का किया भूमिपूजन
 
4.59 करोड़ की लागत से छह माह में पूरा किया जाएगा सड़क का निर्माण कार्य - कंवर
 
विवेक अग्रवाल 
लोकल न्यूज ऑफ़ इंडिया 
ऊना।  ग्रामीण  विकास, पंचायती राज, कृषि, मत्स्य व पशुपालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने आज संपर्क सड़क दोबड़ से कुशियाला के निर्माण कार्य का विधिवत पूजा अर्चना करके शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने रायपुर के वार्ड नंबर 2 में मेन रोड से गुरूद्वारा सहिब तक, वार्ड नंबर 3 में मेन रोड से राधाकृष्ण मंदिर तक तथा वार्ड नंबर 4 में मेन रोड से पंचायत घर तक लगभग 23 लाख रूपये की राशि से निर्मित संपर्क सड़कों का लोकार्पण भी किया। 
वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि दोबड़ से कुशियाला संपर्क सड़क के निर्माण पर 4.59 करोड़ रूपये व्यय किए जाएंगे तथा इसका निर्माण कार्य 6 महीनों में पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि 5 किलोमीटर लंबी इस सड़क के बनने से कुटलैहड़ विधानसभा क्षेत्र के दुर्गम इलाके दोबड़ सहित आसपास की लगभग दो हजार की आबादी को इसका लाभ मिलेगा। 
वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ क्षेत्र की पर्यटन के मानचित्र में एक अलग पहचान बनाने के उद्देश्य से यहां सड़कों के जाल को सुदृढ़ किया जा रहा है ताकि क्षेत्र का हर हिस्सा पर्यटकों की पहुंच के लिए सुलभ हो सके। उन्होंने बताया कि लठियाणी-शाहतलाई, बंगाणा-धनेटा, बंगाणा-तुतड़ू-कामलू सड़क और थानाकलां-भाखड़ा सड़कों के स्तरोन्नयन कार्य के लिए 90 करोड़ रूपये की डीपीआर केन्द्र सरकार को भेजी गई है। इसकी स्वीकृति के बाद शीघ्र ही इन सड़कों का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। इसके अतिरिक्त नाबार्ड के तहत भी लगभग 26 करोड़ रूपये सड़कों के रख-रखाव व मरम्मत इत्यादि पर व्यय किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में बिजली की समस्या को दूर करने के लिए रायपुर तथा लठियाणी में 33केवी के सब स्टेशन स्थापित किए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से समूचे राष्ट्र में रोजगार में कमी आने के साथ-साथ विकास कार्य ठप्प पड़ गए थे लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा घोषित किए गए 20 लाख करोड़ रूपये के आर्थिक पैकेज से विकास को पुनः गति मिली है। इससे रोजगार सृजन में भी लाभ मिला। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए कुटलेहड़ क्षेत्र में 21 अ्रप्रैल से अब तक मनरेगा के तहत विभिन्न विकास कार्यों पर 18 करोड़ रूपये खर्च किए जा चुके हैं और मार्च 2021 के अंत तक कुल 25 करोड़ के व्यय का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
वीरेन्द्र कंवर ने रायपुर पंचायत का पुनर्गठन करके बनाई गई नई पंचायत दोबड़ के निवासियों को बधाई दी। वहीं स्थानीय निवासियों ने दोबड़ को अलग पंचायत घोषित करने की उनकी मांग को पूरा करने के लिए मंत्री वीरेन्द्र कंवर का आभार प्रकट किया। वीरेन्द्र कंवर ने बताया कि प्रदेश में 404 नई पंचायतें बनाई गई हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश की भौगालिक परिस्थतियों के कारण बड़ी पंचायतों में विकास की गति धीमी पड़ जाती है। इसी के चलते नई पंचायतों का गठन किया गया है ताकि हर क्षेत्र एक समान रूप से विकसित हो सके। उन्होंने ग्रामीणों से मुख्यमंत्री एक बीघा योजना, शिवा परियोजना, कौशल विकास योजना सहित अन्य कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने का आहवान किया ताकि दोबड़ पंचायत को विकास के पथ पर तेजी से अग्रसर किया जा सके। 
वीरेन्द्र कंवर ने बताया कि दोबड़ पंचायत के पंचायत घर का निर्माण 25 लाख रूपये की लागत से किया जाएगा जिसमें 15 लाख रूपये ग्रामीण विकास विभाग जबकि 10 लाख रूपये भारत निर्माण सेवा केन्द्र द्वारा खर्च किए जाएंगे। उन्होंने दोबड़ सामुदायिक केन्द्र के लिए 5 लाख रूपये तथा रेन शैल्टर बनाने के लिए अढ़ाई लाख रूपये प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने ग्रामीणों से आने वाले पंचायत चुनावों में बढ़चढ़ कर मतदान करने और सही व योग्य जन प्रतिनिधि चुनने का भी अहवान किया। 
इस अवसर पर गौ-सेवा आयोग के सदस्य कृष्णपाल शर्मा, वरिष्ठ कार्यकर्ता जमीत सिंह, युवामोर्चा उपाध्यक्ष नीरज परमार, रायपुर मैदान के उप प्रधान सुखदेव परमार, एक्सईएन पीडब्ल्यूडी शशिपाल धीमान, बीडीओ बंगाणा यशपाल सिंह परमार, जल शक्ति विभाग के एसडीओ हरभजन सिंह, रतन सिंह सहित अन्य उपस्थित थे।