ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
सात समुन्दर पार बेगार बैठे अपने
April 11, 2020 • Vijay Shukla • विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट

सात समुन्दर पार बेगार बैठे अपने

 
लोकल न्यूज  ऑफ़ इंडिया
 
कोरोना चाइना से निकलकर पूरी दुनिया को अपनी कैद मे ले चुका है और अगर बात आज हम बात जापान , कनाडा , इंग्लैंड और अमेरिका की करे तो यहां जैसे इस चाइनीज़ बायो वैपन ने तांडव मचा रखा है और सौ दिनो मे इसने सबकी नानी याद दिला दी है। आज सात समुंदर पार रोजी रोटी के लिये गये हमारे अपने बेसब्र होकर बिना किसी मदद की उम्मीद मे नाउम्मीद बैठे है। वहां उनकौ ना तो देश की माटी की महक मिल रही है नस अपनो का सहारा। मानो सब कुछ लॉक सा हो गया है वहां काम करने से लेकर अपने वतन लौटने की उम्मीदे भी। कुल मिलाकर इन सौ दिनो मे लोगो ने एक लाख अपनो को खोया  है तो करीब 65 लाख लोग कोरोना की गिरफ्त मे हैं। यह आकड़ा खत्म होते खाने पीने के सामान के साथ मानो उम्मीदो को भी खत्म कर रहा है। ना नौकरी बची है ना उम्मीद। अब देखना यह है की भारत सरकार क्या कर पाती है इं सबके लिये जो अब नौकरी के साथ साथ उम्मीद भी खो चुके है और जिन्दा रहने की जंग लड़ रहे हैं।