ALL हिमाचल-पंजाब-लेह लद्दाख-कश्मीर विजय पथ-सम्पादकीय-लेख-खास रपट हरियाणा- राजस्थान उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड-बिहार दिल्ली सोनभद्र-मिर्ज़ापुर राजनीति-व्यापार-सिनेमा-समाज-खेती बारी देश-विदेश मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़-झारखंड लोकल साथी
सोनभद्र के किसानों को "रिया" नहीं बल्कि "यूरिया" चाहिए 
September 6, 2020 • Vijay Shukla • सोनभद्र-मिर्ज़ापुर

सोनभद्र के किसानों को "रिया" नहीं बल्कि "यूरिया" चाहिए 

सूर्यमणि कनौजिया
लोकल न्यूज ऑफ इंडिया 
 कोन,सोनभद्र।कोन थाना क्षेत्र के अंतर्गत कोन लैंपस पर यूरिया खाद लेने पहुंचे किसानों के हाथ आज भी निराशा हाथ लगी आखिर खाद की समस्या को क्यों  गंभीरता से नही ले रही सरकार ।

वे क्यों भूल गए हैं कि हमारा देश8 एक कृषि प्रधान देश है लेकिन उसी किसानों को उनके जरूरतों की खाद मुहैया कराने में क्यों चुक रही है सरकार।वैसे भी किसानों को यूरिया खाद की आवश्यकता है। रिया चक्रवर्ती की नहीं ।

क्योंकि जिस शिद्दत से  रिया केस के ऊपर लगे हैं वैसे ही अगर किसानों के प्रति लगते तो आज किसानों की जिंदगी भी  खुशहाल रहती आपको बताते चले कि एक तो ऊपर से कम खाद आता है और दूसरी तरफ काला बजारी के चक्कर में  बेचारे किसान पिसा करते हैं।

आपको बता दें कि यह समस्या केवल कोन की नहीं बल्कि पूरे सोनभद्र की यही हालात है इस खाद की बढ़ती समस्या को योगी सरकार को अति गंभीरता से लेने की जरूरत है।